तात्कालिक चेतावनी

सार्वजनिक अवलोकन
(English  हिन्दी)

मॉनसून


(अ) दक्षिण पश्चिम मॉनसून की सक्रियता को चित्रित करने के मानदंड

वर्णनात्मक शब्द विनिर्देश
क्षीण मानसून सामान्य से आधी वर्षा.
सामान्य मॉनसून सामान्य से आधे से लेकर डेढ़ गुनी से कम वर्षा ( सामान्य मॉनसून को बताना आमतौर पर अनिवार्य नहीं होता। ).
सक्रिय मॉनसून
  • (1) सामान्य से डेढ़ गुनी से 4 गुनी वर्षा.
  • (2) यदि उपखंड पश्चिमी तट पर हो तो कम से कम दो स्थानो पर5 से.मी. वर्षा हो तथा अन्य स्थानों पर3 से.मी. वर्षा हो
  • (3) उस उप खडं में अनेक स्थानो या दूर-दूर तक वर्षा हो।.
प्रचंड मॉनसून
  • सामान्य से चार गुनी वर्षा.
  • पश्चिमी तट के आस पास से उप खंडों में कम से कम 2 स्थानों पर 8 सें.मी. तथा अन्य स्थानों पर 5 सें.मी. वर्षा हो।
  • उप खंड में अनेक स्थानों या दूर-दूर तक वर्षा हों
कम मॉनसून
  • स्थानिक वर्षा वितरण लगातार दो दिन,वर्षा का न होना छिटपुट या एक दो स्थानो पर रहे।
  • उस उप खंड में लगातार दो दिन औसत वास्तविक वर्षा सामान्य से कम रहे।
  • उप खंड में उस दिन के लिए अगले 48 घंटों के लिए जारी पूर्वानुमान वर्षा का न होना, एक दो स्थानों पर या छिटपुट वर्षा हो।
नोटः
  • ⟩मॉनसून की सक्रियता का चित्रण करते समय,,
    • जहाँ भी संभव हो, स्थान के प्रसामान्य उपयोग किए जाएं।
    • जब तक सभी स्थानो के प्रसामान्य उपलब्ध हो तब तक निम्नलिखित प्रक्रिया अपनाई जाए-
    उप खंड में उपलब्ध प्रसामान्य स्टेशनों की संख्या - a
    इन स्टेशनों के प्रसामान्य - b
    उप खंड का औसत प्रसामान्य - b/a
    वर्षा की रिपोर्ट भेजने वाले स्टेशनों की कुल संख्या - c
    इन स्टेशनों द्वारा रिपोर्ट की गई वास्तविक कुल वर्षा - d
    अतः उप मंडल की औसत वर्षा - d/c
    d/c की b/a के साथ तुलना करके तदनुसार मॉनसून की गतिविधि का वर्णन किया जाए, अन्य शर्ते भी पूरी होनी चाहिेए।
  • ⟩ जिन उप खंडों मे पर्वतीय स्थानों का प्रतिशत अधिक हो वहाँ मॉनसून की सक्रियता के लिए पर्वतीय स्थान को भी शामिल किया जाना चाहिए। अन्य उप खंडों में पर्वतीय स्थान छोड़े जाएंगे।
  • ⟩ पूर्वोत्तर भारत के सभी उप खंडों में अन्य क्षेत्रों के उप खडों की भाँति ही मॉनसून की सक्रियताके बारे में बताया जाए।
  • ⟩ घाटी द्धीप समूहों तथा अरब सागर द्धीप समूहों में मॉनसून की सक्रियता कोबताने की आवश्यकता नहीं है।

(b) उत्तर- पूर्व मॉनसून की सक्रियता का चित्रण करने हेतु मानदंड।

वर्णनात्मक शब्द विनिर्देश
क्षीण मानसून सामान्य से आधी वर्षा
सामान्य वर्षा सामान्य से आधी से डेढ़ गुनी से कम वर्षा
सक्रिय मॉनसून i) सामान्य से डेढ़ से 4 गुनी वर्षा
ii)
  • सामान्य से डेढ़ से 4 गुनी वर्षा
प्रचंड मॉनसून
  • सामान्य से चार गुनी से अधिक वर्षा
  • तटीय तमिलनाडु तथा दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश में कम से कम दो स्थानों पर5 सें मी अन्य स्थानों पर 3 सें. मी. वर्षा
  • उस उप खंड में दूर-दूर तक या अनेक स्थानों पर वर्षा हो।